Breaking News
दून-नैनीताल के बाद अब हरिद्वार व यूएसनगर में भी चलेगा मोबाइल लर्निंग स्कूल
सारे विरोधों को दरकिनार कर श्री बद्रीनाथ-केदारनाथ मंदिर समिति में अजेंद्र अजय लाये बदलाव की बयार
सीएम ने मेधावी छात्र-छात्राओं को किया सम्मानित
यहां देखें साल 2024 में भारत के 10 सबसे अमीर व्यक्तियों की लिस्ट
राज्यपाल ने बेस चिकित्सालय श्रीकोट में किया कार्डियक कैथ लैब का लोकार्पण
स्पीकर खंडूडी और सांसद अजय भट्ट ने कई मुद्दों पर की चर्चा
उत्तराखंड में हुई देश के पहले ऑनलाइन होमस्टे बुकिंग पोर्टल की शुरुआत
मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी ने ‘‘उत्तराखण्ड सकल पर्यावरण उत्पाद सूचकांक’’ (जी.ई.पी) किया लॉच।
सब इंस्पेक्टर पर युवती ने लगाया यौन शोषण का आरोप

स्वास्थ्य सेवाओं में सुधार को संकल्पित है धामी सरकार – भाजपा प्रदेश मीडिया प्रभारी मनवीर सिंह चौहान

टिहरी की घटना पर तुरंत लिया संज्ञान, चौंड में तीन और चिकित्सक तैनात

संसाधन और उपकरणों की कमी भी हो रही दूर, पहाड़ चढ़ रहे डाक्टर

देहरादून। भाजपा प्रदेश मीडिया प्रभारी मनवीर सिंह चौहान ने कहा कि प्रदेश में स्वास्थ्य सेवाओं में सुधार के लिए लगातार प्रयास किये जा रहे हैं। इसके तहत पर्वतीय जिलों में भी विशेषज्ञ डाक्टरों की नियुक्ति की जा रही है और लैब और अत्याधुनिक मशीनें उपलब्ध कराई जा रही हैं। उन्होंने कहा कि पिछले दो साल में स्वास्थ्य सेवाओं में भी अभूतपूर्व सुधार हुआ है। चौहान ने कहा कि मरीजों के इलाज में कोताही को बर्दाश्त नहीं किया जाएगा।

टिहरी के सीएचसी चौंड में 18 फरवरी को वायरल वीडियो के संबंध में चौहान ने कहा कि जैसे ही यह मामला संज्ञान में आया तो 20 फरवरी को ही इस पर सीएम ने संज्ञान ले लिया था। इस संबंध में सीएमओ टिहरी से जवाब तलब किया गया है। उन्होंने कहा कि इस मामले को कुछ लोग निजी हित के लिए तूल दे रहे हैं। चौंड में पिछले महीने स्त्री रोग विशेषज्ञ समेत तीन अन्य डाक्टरों की तैनाती की गयी है।

उन्होंने कहा कि राज्य गठन के बाद पहली बार मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी के मार्गदर्शन में विशेषज्ञ डाक्टर भी पहाड़ चढ़ रहे हैं। राज्य मे स्वास्थ्य के ढांचे मे बड़े स्तर पर विस्तार हुआ है। जिला अस्पतालों से लेकर पीएचसी को डॉक्टर और उपकरणों से लैस किया जा रहा है। उन्होंने कहा कि आम आदमी को चिकित्सा मुहैया करायी जाए, सरकार इसे लेकर संजीदा है। उत्तराखंड आयुष्मान के माध्यम से आम जरूरतमंदों को उपचार मुहैया कराने मे अब्बल है। वहीं केंद्र की सहायता से अनेक योजनाएं चल रही है जिसमे उपचार के लिए जरूरी टेस्ट आम लोगों को मुहैया करायी जा रही है। कुछ अपवाद को छोड़ दिया जाए तो उत्तराखंड मे स्वास्थ्य व्यवस्था अन्य राज्यों की तुलना मे बेहतर है।

उन्होंने कहा कि सरकार का संकल्पित है कि सीमांत गांव के अंतिम छोर पर खड़े व्यक्ति को सुगमता के साथ इलाज मिल सके।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back To Top