Breaking News
दून-नैनीताल के बाद अब हरिद्वार व यूएसनगर में भी चलेगा मोबाइल लर्निंग स्कूल
सारे विरोधों को दरकिनार कर श्री बद्रीनाथ-केदारनाथ मंदिर समिति में अजेंद्र अजय लाये बदलाव की बयार
सीएम ने मेधावी छात्र-छात्राओं को किया सम्मानित
यहां देखें साल 2024 में भारत के 10 सबसे अमीर व्यक्तियों की लिस्ट
राज्यपाल ने बेस चिकित्सालय श्रीकोट में किया कार्डियक कैथ लैब का लोकार्पण
स्पीकर खंडूडी और सांसद अजय भट्ट ने कई मुद्दों पर की चर्चा
उत्तराखंड में हुई देश के पहले ऑनलाइन होमस्टे बुकिंग पोर्टल की शुरुआत
मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी ने ‘‘उत्तराखण्ड सकल पर्यावरण उत्पाद सूचकांक’’ (जी.ई.पी) किया लॉच।
सब इंस्पेक्टर पर युवती ने लगाया यौन शोषण का आरोप

पत्रकारों को जनसंवेदनाओं के साथ जुड़कर काम करना चाहिए- तरुण विजय

अनुपम त्रिवेदी, ज्योत्सना बौढियाल, चन्द्रशेखर बुडाकोटी, राकेश खण्डूरी, केदार दत्त, राजेश बहुगुणा, नरेश रोहिला और सुभाष कुमार को मिला पत्रकारिता गौरव सम्मान-2024

देहरादून। वरिष्ठ स्तम्भकार और पूर्व राज्यसभा सदस्य तरूण विजय ने कहा है कि पत्रकारों को जनसंवेदनाओं के साथ जुड़कर काम करना चाहिए और क्या लिखना है। किसके लिए लिखना है, क्यों लिखना है। इस पर चिन्तन करना चाहिए। तरूण विजय गुरूवार को देहरादून के आईआरडीटी प्रेक्षागृह में उत्तराखंड पत्रकार महासंघ द्वारा हिन्दी पत्रकारिता दिवस पर वर्तमान परिपेक्ष में पत्रकारिता की चुनौतियां और समाधान विषय पर आयोजित विचार गोष्ठी में अपने विचार व्यक्त कर रहे थे।

पांचजन्य के पूर्व सम्पादक ने खुद को विषय के जोड़ते हुए कहा कि जब तक प्राण है तब तक चुनौतियां है। निष्प्राण को चुनौती नहीं होती। पत्रकारिता के सामने चुनौती का अर्थ है कि उसमे प्राण है। उन्होंने कहा कि सत्य की आराधना करने वाले पत्रकार के लिए हमेशा चुनौती रही है। सत्ता के लिए लिखने वालों के लिए कोई चुनौती नही है लेकिन इन सबके बीच पत्रकारों को जनसंवेदनाओं के साथ जुडकर अपना दायित्व निभाना चाहिए। जनसंवेदनाओं के साथ जुडकर लिखने वालों की समाज में विश्वसनीयता है जो पत्रकारिता के लिए बहुत आवश्यक है।

इससे पहले मुख्य वक्ता और अन्य अतिथियों ने दीप प्रज्ज्वलित कर कार्यक्रम का शुभारंभ किया। इस अवसर पर महासंघ द्वारा अतिथियों को स्मृति चिन्ह भेंट कर और शाल ओढ़ाकर सम्मानित किया। कार्यक्रम में महासंघ की नवनिर्वाचित देहरादून जनपद की कार्यकारिणी को शपथ भी ग्रहण करायी गयी।

इसके अलावा पत्रकारिता के क्षेत्र में उत्कृष्ट कार्य करने वाले पत्रकारों अनुपम त्रिवेदी, ज्योत्सना बौंठियाल, चन्द्र शेखर बुडाकोटी, केदार दत्त, राकेश खंडूडी, राजेश बहुगुणा, नरेश रोहिला, सुभाष कुमार पत्रकार गौरव सम्मान से सम्मानित किया गया। इस अवसर विशिष्ट अतिथि वरिष्ठ पत्रकार और डीएवी महाविद्यालय के पूर्व प्राचार्य डा देवेन्द्र भसीन, वरिष्ठ पत्रकार राम प्रताप मिश्र साकेती, रविन्द्र नाथ कौशिक मौजूद रहे ।

कार्यक्रम का सफल संचालन राष्ट्रीय कवि और डीएवी कालेज में संस्कृत विभाग के अध्यक्ष डा राम विनय सिंह ने किया। अन्त में कार्यक्रम की अध्यक्षता कर रहे उत्तराखंड पत्रकार महासंघ के केन्द्रीय अध्यक्ष निशीथ सकलानी ने सभी अतिथियों का आभार व्यक्त किया।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back To Top