Breaking News
ऋषिकेश में बड़ा सड़क हादसा, 35 यात्रियों से भरी बस पलटी
उत्तराखंड की सोशल मीडिया एक्टिविटीज की भारत निर्वाचन आयोग ने की सराहना – रवि बिजारनीया
PM मोदी और धन दा की छोटी सी मुलाकात बनी राजनीतिक गलियारों में चर्चा का विषय
क्षेत्रीय विधायक डॉ प्रेमचंद अग्रवाल ने पीएम मोदी के देवभूमि आगमन पर किया अभिनंदन
कांग्रेस की कमजोर सरकार सीमा पर आधुनिक इंफ्रास्ट्रक्चर नहीं बना पाई – प्रधानमंत्री मोदी
पीएम की गारंटियां देश के हर गरीब और पिछड़े व्यक्ति का जीवन बना रही बेहतर – मुख्यमंत्री
मोदी के नेतृत्व में देश का गौरव बढ़ा- धामी
भाजपा प्रत्याशी त्रिवेंद्र सिंह रावत ने पिरान कलियर के लगभग एक दर्जन गांवों में किया रोड शो
5 अप्रैल को दून और मसूरी आएंगे उपराष्ट्रपति

10 हजार का इनामी आरोपी को दून पुलिस ने किया गिरफ्तार, धोखाधड़ी मामले में पिछले डेढ साल से चल रहा था फरार

देहरादून। देहरादून पुलिस ने पिछले डेढ साल से फरार चल रहे दस हजार के इनामी आरोपी को दिल्ली से गिरफ्तार कर लिया है। बता दें कि गिरफ्तार आरोपी लोगों को AIMS अस्पताल ऋषिकेश में नौकरी लगवाने के नाम पर अपना शिकार बनाता था और उनसे लाखों की ठगी करता है।

कैसे पकड़ा गया आरोपी
दरअसल 16 सितंबर 2022 को पीड़ित थाना कालसी देहरादून निवासी सुनील शर्मा ने एक एफआईआर दर्ज करवाई थी जिसके मुताबिक उनके और लोगों को एम्स अस्पताल ऋषिकेश मे नौकरी लगाने के नाम पर आरोपी विरेन्द्र गौतम ने 36 लाख रूपये लिये।
जिसके बाद से ही विरेन्द्र गौतम निवासी रायपुर देहरादून पिछले डेढ वर्ष से फरार चल रहा था। जिसकी गिरफ्तारी के लिए पुलिस लगातार दबिश दे रही थी लेकिन आरोपी बार बार अपने ठिकाने बदलकर पुलिस को चकमा देता रहा। जिसके बाद वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक देहरादून ने उस पर 10000/-रूपये का इनाम घोषित किया था।

सर्विलान्स के माध्यम से पुलिस को जानकारी प्राप्त हुई कि आरोपी वर्तमान मे तिहाड गाँव दिल्ली मे छुपा हुआ है जिसके बाद पुलिस टीम ने तत्काल तिहाड गांव पँहुच कर आरोपी के 5 मार्च सोमवार को तिहाड गाँव दिल्ली से गिरफ्तार कर लिया।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back To Top